Home / Biography (जीवन परिचय) / Hardik Pandya Biography in Hindi | हार्दिक पांड्या जीवन परिचय | Success Story

Hardik Pandya Biography in Hindi | हार्दिक पांड्या जीवन परिचय | Success Story

नमस्कार दोस्तों “hindishayarie.in” में आपका स्वागत है |

“लगातार प्रयत्न करने वाले लोगो की गोद में सफलता स्वयं आकर बैठ जाती है”

आज हम बात करने जा रहे है मौजूदा “Indian Cricket Team” के नए उभरते हुए सितारे “हार्दिक पांड्या” की जो की Indian Cricket Team की धड़कन बनते जा रहे है | हार्दिक पांड्या जिनके प्रतिभा को सचिन तेंदुलकर और रिक्की पोंटिंग जैसे महान खिलाड़ियों ने पहचना और अब जो भारतीय क्रिकेट टीम में उभर कर सामने आये है | हार्दिक पांड्या ने सफलता पाने के लिए काफी संघर्ष किया और कहते हैं कि

आत्मविश्वास सफलता का प्रमुख रहस्य है

Hardik Pandya Biography in Hindi, Success Story

हार्दिक पांड्या का जन्म 11 अक्टूबर 1993 को चौर्यासी, सूरत, गुजरात में हुआ था। उनके पिता जी का नाम हिमांशु पांड्या और माता जी का नाम नलिनी पांड्या है। उनके पिता का कार फाइनेंस का अच्छा खासा बिज़नेस था और वो क्रिकेट खेल के प्रेमी थे। इसलिए हार्दिक की भी क्रिकेट के प्रति रूचि बढ़ती गयी| हार्दिक के पिता अक्सर हार्दिक को मैच दिखाने के लिए स्टेडियम ले जाया करते थे|

हार्दिक की शिक्षा के ऊपर नज़र डालें तो उनकी पढाई में रुचि कम ही थी| हार्दिक पांड्या नौवीं कक्षा में नाकाम रहे और अपने क्रिकेट के सपनो को साकार करने के लिए पढ़ाई छोड़ दी| उनका एक बड़ा भाई भी हैं जिनका नाम क्रुणाल पांड्या है, वे कंधे के प्रोब्लेम से पीड़ित होने के कारण मार्च 2015 से एक भी Cricket Match नहीं खेल सके।

बचपन से ही दोनों भाई क्रिकेट के बड़े जुनूनी रहे हैं| जब हार्दिक ६ साल के थे तो किसी ने उनके क्रिकेटिंग स्किल्स को देखते हुए क्रिकेट की अच्छी कोचिंग दिलवाने को उनके पिता से कहा| जिसके बाद उनके पिता सूरत में अपनी कार बिजनेस को छोड़कर बड़ौदा में शिफ्ट हो गए क्योंकि सूरत में क्रिकेट का कल्चर नहीं था और वहां उन्होंने अपने दोनों बेटों को इंडिया के पूर्व क्रिकेटर किरण मोरे के क्रिकेट एकेडमी में भर्ती करा दिया |

वड़ोदरा जाने के बाद, उनका कार-फाइनेंस व्यवसाय नए शहर में उतना नहीं चला और वहाँ पूरे परिवार को आर्थिक तंगी झेलनी पड़ी| हार्दिक के पिता के संघर्ष और उनके बेटो के बेहतरीन परफॉर्मेंस को देखते हुए किरण मोरे ने 3 साल का अकैडमी शुल्क लेने से इनकार कर दिया।

हार्दिक के पिता मधुमेय के रोगी थे और 2 साल में उन्हें 3 बार दिल का दौरा पड़ा| ऐसे में काम छोड़ने के अलावा उनके पास कोई दूसरा चारा नहीं था| इस तरह उनके परिवार के लिए आमदनी का एकमात्र साधन भी चला गया|

क्रिकेट ट्रेनिंग के दौरान वह पूरा दिन ग्राउंड पर प्रैक्टिस किया करते थे और 5 रुपये की मैगी खा कर गुज़ारा किया करते थे| क्यूंकि उस वक़्त आर्थिक तंगी के कारण भोजन के पैसे बचा कर क्रिकेट के लिए इकट्ठे करते थे| वो कहते है ना कि

“मुस्किले वो चीज़ होती है जो हमे तब दिखाई देती है जब हमारा ध्यान लक्ष्य पर नहीं होता”

हार्दिक अपने भाई से बेहतर थे। उनके भाई कहते है,

“बचपन से ही उसमें गज़ब का कोन्फ़िडेंस और प्रैशर में अच्छा करने की अदभूत क्षमता हैं। जिसके कारण वो कई Club Cricket Matches को अकेले अपने दम पर जीता चुका है।“

वे बेहतर परफ़ोर्मेंस के साथ कई First Class और List A मैच खेल चुके है।

शुरुआत में उन्होंने बड़ौदा की टीम के लिए खेलना शुरु किया और 2013 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की ओपनिंग मैच ने इनकी जिंदगी बदल दी | उस मैच में बड़ौदा जल्द ही मात्र 20 रन पर 2 विकेट गवा चुका था | हार के कगार पर खड़ी बड़ौदा टीम को वे धुआंधार बल्लेबाजी से नॉट आउट 52 बोलों में 82 रन बनाकर जीता ले गए |

उनकी इस परफॉर्मेंस से मुंबई इंडियंस के कोच जॉन राइट इतने प्रभावित थे कि वह हार्दिक के दूसरे मैच को भी देखने गए जहां उन्हें हार्दिक ने निराश नहीं किया | सईद मुश्ताक अली ट्राफी के दौरान 2013 में, हार्डिक के पास बैट नहीं था। उस समय हार्दिक को इरफ़ान पठान ने 2 बैट गिफ्ट किये |

hardik pandya success story in hindi, biography

उसके बाद 2014 के सीजन में MI ने उन्हें घायल खिलाड़ियों के बैक अप के तौर पर प्रेक्टिस कैंप पर रखा और वहां उन्होंने मात्र 15 दिन में ही अपनी बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग से सब को प्रभवित कर दिया | जिसके बाद उन्हें अगले आईपीएल सीजन के लिए मुंबई इंडियंस ने 10 Lakh के Base Price पर खरीद लिया और अपने शानदार परफॉर्मेंस की बदोलत उन्होंने एक वन मैन आर्मी की तरह कई मैच जिताए जिसकी तारीफ अक्सर उनकी टीम कोच रिकी पोंटिंग किया करते थे |

उनकी काबिलियत को देखते हुए एक मुलाकात में सचिन ने कहा था कि तुम जल्द ही इंडियन क्रिकेट टीम के लिए खेलोगे और आज वह इंडियन क्रिकेट टीम के उभरते हुए सितारे के रूप में हम लोगों के सामने हैं |

जब उन्होंने 2015 IPL में चेन्नई सुपर किंग के खिलाफ 8 बॉल्स पर २१ रन बनाये और साथ ही 3 महत्वपूर्ण ‘Catch’ भी पकड़े| इस मैच में मुंबई इंडियंस को छह विकेट से जीत मिली और हार्दिक पांड्या को मैन ऑफ द मैच का खीताब|

इसके बाद केकेआर के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए हार्दिक ने 32 बॉल पर 61 रन बनाए और फिर से टीम को अपने बलबूते पर जीत दिलाई| साथ ही मैन ऑफ द मैच का खिताब फिर से अपने नाम किया| जिसके बाद Yes Bank Maximum Six Award अवार्ड भी दिया गया|

harduk pandya jivan parichy, biography in hindi

फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ T20 2016 मैच में इन्होने दो महत्वपूर्ण विकेट लिए और इसी मैच के द्वारा ही ये इंडियन क्रिकेट टीम में शामिल हुए थे| हार्दिक पांड्या ने अभी केवल अपने करियर की शुरुआत की है लेकिन इनसे सभी क्रिकेट फैंस को बड़ी उम्मीदें हैं और इनके अंदर वह जुनून है जो इतिहास रचने की काबिलियत रखता है|

जिंदगी ने मुझे बहुत कुछ सिखाया। मैं हमेशा एक King की तरह जीने की कोशिश करूंगा। चाहे मेरे पास पैसे हो या ना हो। मेरे जीने का तरीका यही रहेगा। इसलिए जो एक बार किंग होता है, वह हमेशा के लिए किंग ही होता है

यह हार्दिक पांड्या का Whatsapp Status था। वाकई में जिस तरह से हार्दिक पांड्या बेखौफ परफॉर्मेंस देते जा रहे है, उसके सामने Indian Cricket Team के लिए सालों से खेलने वाले कई खिलाड़ियों के परफ़ोर्मेंस फीके पड़ते जा रहे है।

हाल ही 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी में इन्होने अपनी शानदार परफॉर्मेंस दे कर सामने वाली टीम के छक्के छुड़ा दिए | इस पूरी चैम्पियंस ट्रॉफी में जब-जब जरुरत पड़ी है हार्दिक ने जलवा दिखाया है| लीग मैच हो या फाइनल हार्दिक ने दिखाया कि अपने हुनर और हौंसले से वो कभी हिम्मत नहीं हारते हैं|

लीग मैच में पाकिस्तान के खिलाफ आखिर में पांड्या ने 3 जोरदार छक्के जमाकर पाकिस्तान के दिल पर हार की मुहर लगा दी थी और फिर फाइनल में भी वो मैच का रुख पलटने की यलगार कर ही चुके थे. हार्दिक ने सिर्फ 43 गेंद पर 4 चौके और 6 बड़े छक्कों के साथ 76 रन बनाए|

Hardik Pandya Career Report

Hardik Pandya‘s Personal Life and Intresting Facts:

  • हार्दिक bats collect करने के शौक़ीन हैं| केवल एक मैच के लिए वह अब 7 से 8 bats लेकर चलते हैं ताकि उनकी किट भारी लगे|
  • आईपीएल मैं सिलेक्शन से पहले हार्दिक को एक मैच खेलने के केवल 400 मिलते थे और उनके भाई क्रुणाल को 5०० Rs. मिलते थे|
  • हार्दिक लेग स्पिन गेंदबाज़ी करते थे| लेकिन एक दिन, किरण मोरे की अकादमी में, एक मैच के लिए तेज गेंदबाजों की कमी थी और मोरे ने उन्हें जिम्मेदारी लेने के लिए कहा। पांड्या ने तेज गेंदबाजी की शानदार प्रदर्शन के साथ एक और सबको चौंका दिया। उस मैच में उन्होंने 7 विकेट लिए थे।
  • धोनी की तरह हार्दिक स्वभाव से बड़े शांत है, जो उनके चेहरे पर प्रेशर गेम में भी दिखता है। पर वे बहुत ही मस्तमौला है। वे हर मुमेंट को एंजॉय करने की कोशिश करते है।
  • इरफान पठान और युसुफ पठान उनके बहुत ही करीबी दोस्त है। पर अब तक उनकी कोई Girlfriend नहीं है।
  • पर खबरों की माने तो वे कोलकाता में जमशेदपुर की 21 वर्षीय Model Lisha Sharma को दिल दे चुके है।
  • आईपीएल के दौरान सचिन तेंदुलकर ने उन्हें कहा था के अगले 1 से डेढ़ साल के अंदर वह इंडियन क्रिकेट टीम के लिए खेलेंगे और ऐसा ही हुआ|

हार्दिक पण्ड्या अपने आक्रामकता और आत्मविश्वास के लिए जाने जाते हैं, चाहे उनकी बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी में हो। उन्हें सीमित ओवरों के क्रिकेट में टीम इंडिया के भविष्य के आलराउंडर के रूप में माना जाता है| जिस तरह हार्दिक इस मुकाम तक पहुंचे हैं वो बहुत ही प्रशंसनीय और कबीले तारीफ है|

हमे उम्मीद है कि आप सभी को हार्दिक पांड्या की यह बायोग्राफी पसंद आई होगी| आपको यह बायोग्राफी कैसी लगी यह बात हमे कमेंट में ज़रूर लिखे और शेयर भी करे धन्यबाद |

A Request: अगर आप भी अपना पॉइंट ऑफ़ व्यू देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं!! Thanks!!

Love It!

User Rating: 4.97 ( 20 votes)

Check Also

Manushi Chhillar Miss World 2017

Manushi Chhillar Biography in Hindi (Miss World 2017 from India) मानुषी छिल्लर का जीवन परिचय

नमस्कार दोस्तों “hindishayarie.in” में आपका स्वागत है | दोस्तों आज हम बात करने जा रहे …

One comment

  1. Nice piece of information about Hardik… He is one of the My Best Cricketers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

हमारे लेख अपनी E-MAIL में सबसे पहले पाने के लिए अपनी E-MAIL ID लिखकर SUBSCRIBE NOW पर क्लिक करें।