Love Stories Sad Stories

Sad Love Story in Hindi | राज और सिमरन के प्यार की कहानी

हैलो दोस्तों, आज मैं बात करने जा रहा हु एक ऐसी दर्द भरी लव स्टोरी के बारे मैं जिसमे एक लड़का है राज जो की अपनी सिमरन से बहुत प्यार करता है लेकिन आगे जानते है इन दोनों की कहानी के बारे में |

कहानी शुरू होती है एक डिग्री कॉलेज से जहा राज और सिमरन अपने घर से अक्सर एक ही ऑटो से आया करते थे लेकिन शुरू शुरू में वो आपस में बात नहीं किया करते थे, एक दिन ऑटो का किराया देने के लिए सिमरन के पास पैसे नहीं थे तो उसका किराया राज ने दिया तब से उनकी बातचित शुरू हो गई और वो दोनों रोजाना एक ही समय पर घर से निकलते और एक ही समय पर कॉलेज से वापस आने लगे वैसे तो राज मध्यम वर्ग परिवार से था लेकिन केवल सिमरन के साथ कॉलेज जाने के लिए उसने अपने पापा से बोल कर एक बाइक खरीदी और उसी समय पर दोनों रोज कॉलेज जाने लगे, इसी तरह दोनों मूवी, पार्क वगैरह रोजाना साथ में जाने लगे और दोनों की दोस्ती बहुत ही गहरी होती चली गई और इसी तरह २ साल बीत गए अब वो दिन आ ही गया जब राज सिमरन से अपने दिल की बात कहने वाला था, वैसे तो राज पहले दिन से ही सिमरन से प्यार करता था लेकिन उससे कहने से डरता था, कि कहि वो उसके प्यार को ठुकरा न दे और उसको छोर के न चली जाये |

sad love story, love story, story, sad story




फिर भी उस दिन राज ने हिम्मत करके सिमरन को “Restaurant”  में बुलाया और डरते हुए अपने दिल की बात सिमरन को बताई की वो सिमरन से बहुत प्यार करता है,  सिमरन राज के इजहार से बहुत खुश हुई और उसने राज से कहा की ये बात मैं कबसे सुनना चाह रही थी |

“हमेँ कँहा मालूम था क़ि इश्क़ होता क्या है,
बस एक ‘तुम’ मिले और ज़िन्दगी मुहब्बत बन गई.”

  राज को जब पता चला की सिमरन भी उससे उतना ही प्यार करती है जितना वो सिमरन से करता है तब उसके खुशी का कोई ठिकाना ही नहीं रहा, राज ने सिमरन को गोद में उठा लिया और गोल गोल घूमने लगा और चिल्लाने लगा आई लव यू सिमरन – आई लव यू सिमरन | अब राज और सिमरन रात रात भर बात करने लगे और कब उनका कॉलेज समाप्त हो गया उन्हें पता ही न चला | अब राज नौकरी के सिलसिले में अपने शहर से दूर चला गया और सिमरन अपने मामा के घर चली गयी, अभी भी उनकी रोज बात होती थी इसी तरह ये बातचीत का सिलसिला ऐसी ही जारी रहा लेकिन कुछ दिनों बाद सिमरन ने राज से बात करना कम कर दी और अब तो लगभग बात होना ही बंद हो गयी| इस बात से राज बहुत परेशान होने लगा और कुछ दिन बाद राज ने सिमरन के मामा के यहाँ जाने का फैसला किया लेकिन सिमरन राज से मना करने लगी पर राज वहा गया तब किसी तरह उसे पता चला की सिमरन ने अपने मामा के लड़के के दोस्त से दोस्ती कर ली है जो की काफी अमीर है |

सिमरन राज से मिलना भी नहीं चाहती थी लेकिन राज के बार बार कहने पर सिमरन एक बार मिलने को तैयार हुई | राज ने सिमरन से पूछा आखिर उसने उसके साथ ऐसा क्यों किया तब सिमरन ने राज से कहाँ तब मैं नादाँ थी और ज़िन्दगी जीने के लिए प्यार के साथ-साथ पैसो की भी जरुरत होती है जो की तुम्हारे पास नहीं है, राज ने बोला वो हमारा साथ में घूमना, मूवी देखना रात रात भर बाते करना सब बेमानी था, तब सिमरन राज से कहती है ज्यादा परेशान होने की कोई जरुरत नहीं है और एक बार बोला ना तब मैं नादाँ थी लेकिन अब मुझमे इतनी समझ है की मुझे किसके साथ रहना चाहिए और किसके साथ नहीं, इस बात को सुन कर राज का दिल टूट गया, तब उसका नौकरी में मन नहीं लगा और वहा अपने शहर वापस आ गया और अपनी पढ़ाई दुबरा आरम्भ कर दी |

 “चेहरे अजनबी हो जाये तो कोई बात नहीं
रवैया अजनबी हो जाये तो बड़ी तकलीफ देते है…”

  इसी तरह दोनों की लाइफ आगे बड़ी और कुछ दिनों बाद राज को पता चला की सिमरन को उस लड़के ने धोखा दिया और उसे ऐसी परिस्तिथि में ला कर छोर दिया जिस परिस्थिति में कोई भी लड़की कभी भी आना नहीं चाहेगी और सिमरन को इस वजह से लोगो से बहुत सी कड़वी बाते सुननी पड़ी | अब सिमरन बहुत परेशान रहने लगी थी, लेकिन उसने हिम्मत नहीं हरी और एक बार फिर ४ महीने बाद वही कॉलेज ज्वाइन किया जहा राज पहले से ही पढ़ रहा था|




लेकिन अब बात पहले जैसी नहीं थी क्यों की राज अब दुबारा उसी तकलीफ से नहीं गुजरना चाहता था लेकिन एक दिन राज को सिमरन की दोस्त ने आ कर कहा की सिमरन उससे बात करना चाहती है|

राज सोच में पढ़ गया की वो क्या करे अब आप लोग ही बताइये की राज को आखिर क्या करना चाहिए ????

About the author

Hindi Shayari

नमस्कार दोस्तों “hindishayarie.in” में आपका स्वागत है | यहां पर आपको Hindi Shayari, SMS, Quotes, Biography, History, Sports, Love Story, Movie Dialogues इत्यादि से जुड़े हिंदी ब्लॉग मिलेंगे, "hindishayarie.in" से जुड़े रहने के लिए सब्सक्राइब जरूर करें। धन्यवाद दोस्तों..

Add Comment

Click here to post a comment

  • राज को बात कर लेना चाहिए। एक कहावत है सुबह का भुला शाम को आजाये उसे भुला नहीं कहते, और बात करने में क्या जाता है |

  • i think agr me uski jagah pe hota to usse bat krta or uski galti ka ehsas dilata.. q ki agr aap kisi se sachcha pyar krte h to usko bhulna boht complicated hota h

  • Raj ko ek ache dost ke naate baat krni chahiye kyuki agr wo phle usse sacha pyr krta tha to wo pyr uske dil me aj bhi hoga… Ek ache or sache dost ke nnaatee uski prblm smjhni chahiye or help krni chahiye

  • Mohabbat bhi zindagi ki tarah hoti hai
    har mod aasan nahi hota
    har mod par khushi nahi milti
    Par jab hum zindagi ka saath nahi chodte
    to mohabbat ka saath kyon chhode

  • For me, the best emotional and sad love story has to be Zakhm (wound) is a 1998 Hindi drama film directed by Mahesh Bhatt. The film stars Ajay Devgan, Pooja Bhatt and Kunal Khemu in the lead roles and is undoubtedly one of the most beautiful sad love stories one can ever come across.

Topics