Home / Hindi Shayari / तन्हाईयों में मुस्कुराना इश्क है

तन्हाईयों में मुस्कुराना इश्क है

तन्हाईयों में मुस्कुराना इश्क है,
एक बात को सबसे छुपाना इश्क है,
यु तो नींद नहीं आती हमें रात भर,
मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना इश्क है.

User Rating: 5 ( 6 votes)

Check Also

Bewafa Shayari in Hindi, Bewafa Hindii Shayari

Bewafa Hindi Shayari, Na Puch Mere Sabr Ki Intha Kaha Tak Hai

♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥♥ Na Puch Mere Sabr Ki Intha Kaha Tak Hai, Tu Sitam Kar Le, Teri …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *